HEALTH TIPS IN HINDI – (हेल्थ टिप्स इन हिंदी)

0
184

Health tips in hindi – (हेल्थ टिप्स इन हिंदी)

जब आप बच्चे थे, तो आपकी मां ने शायद आपको चेतावनी दी थी कि आप कभी च्यूइगम निगलेंगे तो यह आपके आंत में फंस जाएगा. एक और उदाहरण यह और है कि अगर आप बिज खायेंगे तो आपके सिर के अंदर एक पेड़ बढ़ने लगेगा. हम सभी जानते हैं कि ये सिर्फ डरावनी कहानियां हैं. लेकिन असल में कई हास्यास्पद स्वास्थ्य युक्तियाँ हैं जो वास्तव में काफी सच हैं। हम यहाँ पर आपको इन कुछ उपाय बताने वाले है यहां बहुत सी जानकारियाँ बताने को है,जिनमे से हम Top 5 health tips in Hindi के बारे मैं विस्तार से निचे बात करेंगे. बच्चो के लिए हेल्थ टिप्स हिंदी मैं (baby health tips in Hindi). महिलाओ और पुरुषो के शरीर के लिए हेल्थ टिप्स इन हिंदी (health tips in Hindi for man body),( health tips in Hindi for woman body).Health tips in hindi

हम जो  स्वास्थ्य युक्तियां आपको बताने जा रहे है वो शायद आपको अजीब लग सकती हैं, लेकिन यह आपके स्वास्थ्य को बेहतर बनाने में मदद कर सकती है और एक उदाहरण में भी आपके जीवन को बचा सकती है|

Top 5 health tips in Hindi

1.पुरुषों के लिए हेल्थ टिप्स – (Health tips in Hindi for man body) :health tips in Hindi for man body

1. नाश्ते में दो केले जरूर खाये. केले खाने से पुरे दिन आपके शरीर में एनर्जी और ताकत बनी रहेगी, जिससे आप बिना थके काम करते रहोगे और आपका काम करने में मन लगेगा और हो सके तो केलो को दूध के साथ ले. इसके साथ ही केला खाने से आपका हार्ट स्वस्थ रहेगा, और हार्ट से जुडी कोई भी बीमारी आपको नहीं होगी.

2. अगर आप बाहर का डिब्बाबंद भोजन और जंक फ़ूहो ड के शौकीन हैं, तो सावधान हो जाइए.क्योंकि जंक फ़ूड का सेवन करना हमारे शारीर के लिए  फायेदेमंद नही हैं .नियमित रूप से डिब्बाबंद भोजन और जंक फ़ूड खाने से पुरुषों में धीरे धीरे शुक्राणुओं की गुणवत्ता में कमी आती जाती हैं. अगर आप चाहते हैं, कि आपको इस समस्या का सामना ना करना पड़े, तो आज ही जंक फ़ूड और बाहर का भोजन करना बंद करे.

3. खाने में ताज़ी और हरी पत्तेदार सब्जिया अधिक खाएं और सब्जियों को बहुत अधिक पकाएं ना. सब्जियों का सेवन करने से पूर्व उनको तजा पानी से धो ले . भोजन के साथ सलाद जरूर खाएं. अंकुरित अनाज को भी अपने आहार में शामिल करे.

4.मोटापे के कारण जहाँ एक ओर आप देखने में बुरे लगते हैं, वही दूसरी ओर मोटापा अनेक शारीरिक बीमारी का कारण भी हैं. इसीलिए पुरुषों को अपने वजन पर कण्ट्रोल रखना चाहियें.वजन घटाने के लिए शुबह जल्दी उठ कर दोड लगाये और आपने खाने को कम करिएँ.

5.कुछ लोग सुबह देर से उठते हैं, और फिर ऑफिस या कॉलेज जाने की जल्दबाजी में वो नाश्ता करना ही भूल जाते हैं. अगर आप भी ऐसा करने हैं, तो ये आदत छोड़ दे, क्योंकि सुबह का नाश्ता स्वस्थ शरीर के लिए बहुत जरुरी हैं. इसीलिए डॉक्टर सुबह का नाश्ता हेल्थी करने की सलाह देते हैं जिससे आपका दिन भी बहुत अच्छा गुजरता हैं.

6.कोल्डड्रिंक, चिप्स, कुरकुरे, मैगी और कॉफी जैसी चीजों का रोजाना सेवन भी आपके स्वास्थ्य पर नकारात्मक असर डालता हैं, इसीलिए इन चीजों सेवन कभी कभी और कम मात्रा में ही करे. अगर हो सके तो इनका सेवन पूरी तरह बंद कर दे.

2. महिलाओं के लिए हेल्थ टिप्स – (health tips in Hindi for woman body)

  1. आज कल मोटापा आम समस्या है. और मोटापा अनेक रोगो का कारण हैं, शारीरिक वर्क कम करने के कारण अधिकतर महिलाये मोटापे का शिकार हो जाती हैं. और वर्कआउट करना इतना आसान नही है तो एस स्तिथि मैं मोटापे से बचने के लिए नारियल पानी पियें| नारियल पानी वजन घटाने में सहायक हैं. इसमें फैट और कैलोरी भी नहीं होती हैं.
  2. 2012 के एक सर्वे के मुताबिक ब्रेस्ट कैंसर से लगभग 1.7 million महिलाये ब्रैस्ट कैंसर की सीकर है. महिलाओ में ब्रैस्ट कैंसर तेजी से बढ़ता जा रहा हैं, इसीलिए अपने ब्रेस्ट की रोजाना खुद से जाँच करे. ब्रेस्ट की जाँच से पहले आपको ब्रेस्ट कैंसर के लक्षणों के बारे में पता होना चाहिए और डॉक्टर से  इससे ही पता लगा पायेगी कि आपके ब्रेस्टकैंसर होने का खतरा हैं, या नहीं.
  3.  ज्यादा खाने का लालच हमेशा महंगा पड़ता है. अगर आप खाने की शौकीन हैं, तो ध्यान रहे एक ही समय में अधिक भोजन ना खाये. भोजन थोड़े थोड़े समय के बाद कम कम मात्रा में खाएं. एक साथ अधिक खाना खाने से एसिडिटी और पेट खराब होने जैसी प्रॉब्लम हो जाती हैं. जिससे कई बीमारियाँ हो सकती है.
  4.  स्ट्रेच मार्क्स भी एक प्रकार की समस्या है. इसको खत्म करने के लिए रोजाना तवचा की जैतून के तेल या फिर आलू के रस से मालिश करे| इससे स्ट्रेच मार्क्स खत्म हो जाते हैं.
  5. मसाज करने से शारीरिक और मानसिक दोनों प्रकार की थकान दूर होती हैं, इसीलिए रोजाना शरीर की मालिश करे| अगर आप बहुत व्यस्त रहती हैं, तो हफ्ते में एक बार मसाज कर सकती हैं.
  6. कोसिस यह करे की हो सके जितना कम तनाव लें और खाना समय पर खाये भूके पेट रहना भी तनाव का कारन हो सकता है. तनाव मुक्त रहे तनाव और अनियमित खान-पान की आदत अनेक रोगो का कारण होता हैं. अनियमित रूप से खाने पीने की आदत छोड़ दे, और हमेशा खुश रहने की कोशिस करे जिससे जीवन और अस्सं होगा.

 

3.बच्चो के लिए हेल्थ टिप्स हिंदी – (baby health tips in Hindi)baby health tips in Hindi

  • 6 से 12 महीने में नवजात को क्या खिलाएं (Diet Chart And Tips For Newborn Baby) –

बच्चो का स्वास्थ्य बहुत नाजुक होता है. नवजात के लिए तो शुरु के 6 महीने में मां का दूध ही सर्वोत्तम आहार होता है। मां के दूध से शिशु के सबसे बेहतरीन पोषण और सभी तरह के रोगों से सुरक्षा मिलती है। शुरुआती छह महीनों में बच्चे को केवल मां के दूध की ही जरुरत होती है। मां के दूध में कोलोस्ट्रम और इम्‍युनोग्‍लोबुलिन होता है। यह किसी भी परिपक्व दूध से ज्यादा पोषक होता है। इम्‍युनोग्‍लोबुलिन एक तरह का सुरक्षात्मक प्रोटीन होता है जो बच्चे की रोग प्रतिरोधक क्षमता को मजबूत करता है और संक्रमण से बच्चे की रक्षा करता है।

 

  • बच्चे को पानी के पास अकेला नहीं छोड़ें (Never Leave Children Alone Near Water)

बच्चे बहुत ही चंचल होते है. इनका हर समय ध्यान रखना इन पर नजर रखना हमारी जिमेदारी है. यह नासमझ होते है.  पानी में और पानी के आसपास खेलना बच्चों को काफी पसंद है। मगर पानी बच्चे के लिए खतरनाक भी हो सकता है। छोटे बच्चे एक इंच से कम पानी के अंदर भी डूब सकते हैं। बाथरुम में पानी का बाथटब हो या बाल्टी, बच्चे उसके अंदर जा सकते हैं। अगर आपने घर के बाहर बगीचे मे फव्वारा या पुल बनाया है तो वहां बच्चे को कभी भी अकेला नहीं छोड़ें।

  • नवजात के पोषण के लिए कुछ जरुरी फूड टिप्स (Essential Diet Tips for Infant Nutrition)

 

  1. छठे महीने के बाद शिशु का पोषण सिर्फ मां के दूध पर ही नहीं निर्भर रहना चाहिए,। बेहतर पोषण के लिए उसे ठोस आहार देना शुरु कीजिए मसलन- पका हुआ भोजन।
  2. कई माता-पिता ठोस आहार के विकल्प में फूड पाउडर, जैसे-सेरेलेक का इस्तेमाल करते हैं।
  3. बच्चे को ठोस आहार (पका हुआ) अच्‍छी तरह से मथ कर या मसल कर थोड़े-थोड़े अंतराल पर देना चाहिए
  4. बच्‍चे को दोपहर में भी कुछ-कुछ नया फूड देने का प्रयास करें जो उसे आसानी से पच सके।
  5. धीरे-धीरे बच्‍चे को दी जाने वाली भोजन सामग्री में इजाफा करना चाहिए।
  6. जब आप बच्‍चे को कुछ नया भोजन देने की शुरूआत करते हैं तो उसे कम से कम एक सप्‍ताह तक देना चाहिए और जब यह पचने लगे तो दो सप्ताह के बाद ही कुछ नया फूड दें।
  7. शुरुआत में नया भोजन देने से शिशु को अपच हो सकती है।
  8. ध्‍यान रखें कि बच्‍चे को कोई भी भोजन बोतल से न दें, इससे बच्चे को दस्त हो सकती है
  9. हमेशा चम्‍मच से खिलाने की आदत डालें ताकि बच्‍चे को बाद में ठोस आहार देने पर उसे दस्‍त न हों और उसका तालू भी सही से काम करने लगे।
  10. 9 महीने के बाद बच्‍चे को पके हुए चावल और दही खिला सकते है।
  11. जब बच्‍चा, इसे अच्‍छी तरह से पचाने लग जाए तो उसे खिचड़ी खिलाना चाहिए,
  12. खिचड़ी चावल और मूंग की दाल से बनाया जाना चाहिए।
  13. बारहवें महीने से बच्चे को दाल, फल और सब्जी की सूप और हल्‍की सब्जियां और फल भी मसलकर दे सकते हैं।
  14. बच्‍चे को उबला आलू हमेशा तोड़ कर देना चाहिए ताकि वो समूचे को निगल न जाएं,  आलू में हल्‍का नमक और नींबू रस मिला दें, स्वाद लगेगा।
  15. एक साल की उम्र के बाद बच्‍चे को अंडा भी देना शुरू किया जा सकता है।

4. ह्रदय के लिए हेल्थ टिप्स (health tips for heart )Top 5 health tips in Hindi

खाने में लहसुन का प्रयोग करें:

  • लहसुन खाने से blood pressure कम रेह्र्ता है.
  • लहसुन cholesterol को भी कम करता है और साथ ही blood sugar levels को भी control में रखता है.
  • इससे शरीर की प्रतिरोधक क्षमता भी बढती है.

Breakfast में fruit juice लें :

  • Orange Juice  हार्ट के लिए बहुत ही कारगर है. जो heart attack के खतरे को कम करता है.
  • Grape Juice में flavonoids and resveratrol होता है जो artery block करने वाले clots को कम करता है.
  • ज्यादातर juice आपके लिए अच्छे हैं बस ध्यान रखिये कि वो sugar free हों.

पर्याप्त नीद लें:

  • कम से कम 7 घंटे नींद ले. खासतौर से 4o साल के ऊपर के व्यक्ति के लिए अच्छी नीद बहुत ज़रूरी है.
  • पर्याप्त नीद ना लेने पर शरीर से stress hormones निकलते हैं, जो धमनियों को block कर देते हैं और जलन पैदा करते हैं.

हरी चाय (ग्रीन टी) का प्रयोग करें:

  • इसमें antioxidants होते हैं जो आपके cholesterol को कम करते हैं  , और ये blood pressure control करने में भी मददगार होते हैं.
  • Green tea मैं कुछ ऐसे तत्व भी पाए जाते हैं जो cancer growing cells को मारते हैं.
  • ये असमान्य blood clotting  को भी रोकती  है , जिस वजह से ये strokes रोकने में भी सहायक है.

 जैतून के तेल का प्रयोग करें: 

  • खाना बनाने के लिए जैतून तेल का प्रयोग करें.
  • इसमें मौजूद fat bad LDL cholesterol को कम करने में सहायक होता है.
  • जैतून के तेल में भी antioxidants होते हैं , जो अन्य कई बीमारियों से लड़ने में मदद करते हैं.

 5.चेहरे के लिए हेल्थ टिप्स – (health tips for face)

  • चहरे पर ब्लीच का प्रयोग न करे. ब्लीच में विभिन प्रकार के राशायानों का प्रयोग किया जाता है. ब्लीच से भविष्य में इससे आपकी त्वचा ख़राब होने का खतरा रहता है. नीबू को शहद के साथ मिलाकर लगाए.
  • संतरा आपकी skin के glow में बहुत मदद कर सकता है। इसका जूस पीजिये चाहे इसके छिलके को सुखा कर इसका पेस्‍ट बना कर लगाइये. यह हर तरह से स्‍किन को चमकदार बनाने में मदद करेगा.
  • त्‍वचा को स्‍क्रबर करने से नई त्‍वचा आती है और पुराने दाग धब्‍बे हल्‍के पड़ने लग जाते हैं. हफ्ते में 1 बार स्‍क्रब जरुर करना चाहिये.
  • नीबू को चहरे पर लगाने से दाग धब्बे दूर हो जाते है और त्वचा में एक चमक आ जाती है.
  • ग्रीन टी  को तोड़ी देर पानी में भिगोकर रख दे फिर चहरे पर लागाये. चेहरे का कालापन दूर हो जाएगा.
  • रात को चेहरे पर गुलाब जल लगाकर साफ़ करे. ठंडक के साथ त्वचा चमक जाएगी.
  • खूब  पानी पीजिये और अंदर से तरोताजा रहिये. इसेस शरीर से गंदगी बाहर निकलती है और बॉडी में नए cells बनते हैं.
  • आपको हर दिन दो गिलास जूस अवश्‍य पीने चाहिये. इससे स्‍किन में पोषण पहुंचेगा और Skin glow करेगी.

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here